banner for kahani mom ka sher akbar birbal

कहानी – मोम का शेर

banner for kahani mom ka sher akbar birbal

एक बार ईरान के राजा ने पिंजरे में एक शेर भेजा और कहा कि अगर इसे कोई बिना पिंजरा खोले बाहर निकाल देगा तो मान जायेगा की आपके दरबार मेंनवरत्नों की होड संसार में नहीं हो सकती। अकबर ने सभी दरबारियों से शेर को बिना पिंजरा खोले बाहर निकालने को कहा पर सभी असफल रहे। अंत में बीरबल को बुलाया गया। बीरबल ने एक गर्म सलाख ली और उससे शेर को दागने लगा कुछ ही देर में मोम का शेर पिघल गया, अकबर बीरबल की बुद्धिमत्ता देखकर बहुत खुश हुआ। बीरबल के कारण ईरान के राजा के सामने अकबर की ईज्जत रह गयी।



Leave a Reply